नई दिल्ली  केंद्र सरकार ने मंगलवार को लोकसभा में बताया कि देश में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और असम राइफल्स में करीब 10 लाख स्वीकृत पदों की तुलना में कुल 76 हजार पद खाली हैं। गृह राज्यमंत्री किरेन रिजिजू ने मोहम्मद सलीम और बदरुद्दोजा खान प्रश्नों के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि एक जुलाई 2018 की स्थिति के अनुसार, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और असम राइफल्स (एआर) में कुल 9,98,510 स्वीकृत पदों की तुलना में कुल 76,578 पद खाली हैं। रिजिजू द्वारा दिए गए उत्तर के अनुसार, इनमें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) में 22,746 पद, सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) में 19,320 पद, केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) में 5,165, सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) में 19,175 पद, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) में 6,398 और असम राइफल्स (एआर) में 3,774 पद खाली हैं। उन्होंने कहा कि सीएपीएफ और एआर में रिक्तियां सेवानिवृत्ति, त्याग पद देने, मृत्यु, नए गठन, नए पदों के सृजन आदि के कारण उत्पन्न होती हैं।

रिक्तियों को भर्ती नियमों के मौजूदा प्रावधानों के अनुसार, विभिन्न माध्यमों और सीधी भर्ती, पदोन्नति तथा प्रतिनियुक्ति द्वारा भरा जाता है। रिजिजू ने कहा कि रिक्तियों को भरा जाना सतत प्रक्रिया है। भर्ती वर्ष 2018 के लिए कर्मचारी चयन आयोग द्वारा कांस्टेबल (सामान्य ड्यूटी) के 54,953 पदों की भर्ती के लिए अधिसूचना पहले ही जारी कर दी गई है। इसके अलावा भर्ती वर्ष 2018 के लिए कर्मचारी चयन आयोग को उप निरीक्षक (सामान्य ड्यूटी) की 1,073 रिक्तियों और संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) को सहायक कमांडेंट (सामान्य ड्यूटी) की 483 रिक्तियों की सूचना दी गई है।