बैंकॉक : सेना द्वारा 2014 के तख्तापलट में चयनित सरकार को अपदस्थ किए जाने के बाद से थाईलैंड में पहली बार हो रहे चुनाव के लिए मतदाताओं ने रविवार को मतदान हो रहा है. तख्तापलट का नेतृत्व करने वाले सैन्य प्रमुख एवं थाईलैंड के प्रधानमंत्री प्रयुथ चान ओचा को उम्मीद है कि सत्ता पर उनकी पकड़ बनी रहेगी.

इस चुनाव में पांच करोड़ 10 लाख मतदाता मताधिकार का प्रयोग करेंगे. सैन्य शासन का विरोध कर रहे राजनीतिक दलों के नेताओं ने लोगों से अपील की है कि वे मतदान करके प्रयुथ की योजनाओं को नाकाम करें.
शुक्रवार को राजकुमारी उबोलरत्ना महिदोल को प्रधानमंत्री पद के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया था. राजकुमारी उबोलरत्ना राजकन्या (67) थाई रक्सा चार्ट पार्टी की एकमात्र उम्मीदवार हैं. वह दिवंगत राजा भूमिबोल अदुल्यादेज की सबसे बड़ी संतान और वर्तमान राजा महा वजिरालोंगकोर्न की बहन हैं. वह मादक पदार्थो के खिलाफ और धर्मार्थ, सामाजिक और स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले अभियानों से जुड़ी हैं. यह पहली बार है जब शाही परिवार के किसी सदस्य ने थाईलैंड के चुनाव में भाग लिया है.