भोपाल । प्रदेश के किसानों के खिलाफ धोखाधडी के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा धोखाधडी का मामला भोपाल, रायसेन, विदिशा और सीहोर के किसानों के साथ धटित हुआ, जिसमें छह करोड़ की अनाज खरीदी में किसानों को चूना लगा दिया गया। दरअसल, एक व्यापारी ने इन किसानों से अनाज खरीदने के बाद जो चेक दिए वे बाउंस हो गए थे। इसकी पहली शिकायत मार्च में कृषि उपज मंडी के सचिव के पास पहुंची। इसकी जांच के बाद अब आरोपित व्यापारी के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का मामला दर्ज कर लिया गया है।
    निशातपुरा पुलिस के अनुसार जनवरी 2019 में भोपाल, रायसेन, विदिशा और सीहोर के किसानों ने व्यापारी आशीष गुप्ता को अनाज बेचा था। गुप्ता ने सभी किसानों को करीब छह करोड़ का भुगतान चेक से किया था। अनाज लेकर गुप्ता ने उसे राजस्थान के कोटा और उसके आसपास के जिलों में बेच भी दिया था। वहीं किसानों ने अपने राशि के चेक खाते में जमा किए तो वे बाउंस हो गए, लेकिन किसानों ने कृषि उपज मंडी में कोई सूचना नहीं दी। वे अपने स्तर पर ही मामले को सुलझाने की कोशिश करते रहे। इस तरह जनवरी में बाउंस हुए चेक की सूचना किसानों ने 12 मार्च को मंडी में दी। इसके बाद मंडी के सचिव प्रदीप मलिक ने पूरे मामले की जांच की। मंडी सचिव ने बताया कि व्यापारी ने सभी को चेक से भुगतान कर दिया था। लेकिन करीब छह करोड़ के चेक बाउंस हो गए थे। व्यापारी को दोषी पाया था। इसके बाद निशातपुरा पुलिस को एफआईआर करने संबंधी आवेदन दिया था। अब पुलिस ने मंडी बोर्ड के आवेदन पर व्यापारी गुप्ता के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का मामला दर्ज कर लिया गया है।