भोपाल: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के शुरुआती रुझान और नतीजे 2019 (Lok Sabha Election Results 2019) आने लगे हैं. ताजा रुझानों में मध्य प्रदेश की 21 सीटों पर बीजेपी और एक सीट पर कांग्रेस को बढ़त मिली हुई है. बीजेपी  भोपाल लोकसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर आगे चल रही हैं. उनके सामने कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह चुनावी मैदान में हैं. छिंदवाड़ा सीट से मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ आगे चल रहे हैं. वहीं, गुना शिवपुरी लोकसभा से प्रत्याशी केपी यादव और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच मुकाबले में बीजेपी आगे चल रही है.

मध्यप्रदेश के इंदौर लोकसभा क्षेत्र में मतगणना के शुरुआती रुझानों के मुताबिक बीजेपी उम्मीदवार शंकर लालवानी अपने नजदीकी प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस प्रत्याशी पंकज संघवी से करीब 8,000 मतों से आगे चल रहे हैं. दतिया संसदीय क्षेत्र से बीजेपी की संध्या राय आगे चल रही हैं. कांग्रेस के देवाशीष जरारिया पीछे चल रहे हैं.

जबलपुर लोकसभा सीट से बीजेपी के राकेश सिंह आगे चल रहे हैं. उज्जैन संसदीय सीट से बीजेपी के अनिल फिरोजिया कांग्रेस के बाबूलाल मालवीय से आगे चल रहे हैं. रीवा से बीजेपी के जर्नादन मिश्रा आगे चल रहे हैं. मंदसौर से बीजेपी के सुधीर गुप्ता आगे चल रहे हैं. खंडवा सीट से बीजेपी के नंदकुमार चौहान आगे चल रहे हैं. टीकमगढ़ लोकसभा सीट पर बीजेपी के डॉ. वीरेन्द्र खटीक को बढ़ मिली हुई है. वह कांग्रेस प्रत्याशी किरण अहिरवार से आगे चल रहे हैं.


देश के सबसे बड़े और 84 दिनों तक चले सियासी 'महाभारत' के शुरुआती रुझान सामने आने लगे हैं. सामने आए शुरुआती रुझानों में बीजेपी 4 सीटों पर आगे चल रही है. वहीं, कांग्रेस को भी एक सीट पर बढ़त मिली हुई है. वहीं, रतलाम लोकसभा सीट पर कांग्रेस के प्रत्याशी कांति लाल भूरिया पीछे चल रहे हैं. इन सबके बीच  51 मतगणना स्‍थलों पर कुल 292 मतगणना कक्षों में मतगणना शुरु हो चुकी है.

मध्य प्रदेश में पहला चुनाव परिणाम रात दस बजे के बाद आने की उम्मीद है. दरअसल, मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनावों की गुरुवार को होने वाली मतगणना में राज्य का पहला लोकसभा चुनाव परिणाम रात दस बजे के बाद आने की उम्मीद है.

मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव 2019 के पांचवें, छठवें और सातवें चरण में मतदान हुआ था. राज्य में बीजेपी और कांग्रेस मुख्य दल हैं. हालांकि, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन के साथ ही कुछ क्षत्रप भी यहां से ताल ठोंक रहे हैं. लेकिन, सीधा मुकाबला बीजेपी ओर कांग्रेस के बीच माना जा रहा है.