इन्दौर । इल्म हासिल करने और फ़िज़ूलखर्ची को रोकने के पैग़ाम के साथ मुस्लिम समाज में निशुल्क इज्तेमाई शादी हुई। ग़रीब बेटियों की शादी में आसानी के उद्देश्य से ख़िदमत कमेटी द्वारा निशुल्क इज्तेमाई शादी सम्मेलन सम्पन्न हुआ।
ख़िदमत कमेटी के अध्यक्ष नूरा उस्ताद ने जानकारी देते हुए बताया कि एमआर 9 स्थित रंगमहल गार्डन पर सभी 15 जोड़ों के निकाह हुए। बतौर ख़ास मेहमान अन्नू पटेल, मंज़ूर बेग, आरिफ भाई बियाबानी वाले, अनवर देहलवी, अज़ीम लाला, आरिफ शेख़, साजिद शेख,इरफान मंसूरी, मोहसिन पटेल, फ़िरोज़ खान, मुनव्वर शाह, नासिर छीपा ने दूल्हा-दुल्हन को मुबारकबाद दी। शहर काजी डॉक्टर इशरत अली की निगरानी में हाफ़िज़ अंसार अली, हाफिज मोहम्मद ज़ाकिर और हाफ़िज़ इमामुद्दीन रज़वी ने निकाह पढ़ाए गए। ख़िदमत कमेटी इंदौर के अध्यक्ष नूरा उस्ताद ने बताया कि समाजजनों की मिलीजुली कोशिशों से ख़िदमत कमेटी की ये दूसरी निशुल्क इज्तेमाई शादी का आयोजन हुआ।इस मौके पर समाजजनों को फ़िज़ूल रस्म रिवाजों व रूढ़िवादी परंपराओं को समाप्त करने और फ़िज़ूल ख़र्ची को रोकने पर ज़ोर दिया। तमाम जोड़ों को कमेटी की तरफ से बतौर तोहफा क़ुरआन शरीफ और घर-गृहस्थी का तक़रीबन सभी जरूरी सामान दिया गया। संचालन अनीस कुरैशी ने किया। आभार शादाब पटेल ने माना। कमेटी के अध्यक्ष नूरा उस्ताद ने सभी दुल्हनों को बेटी की तरह विदा कर फादर्स डे का तोहफा दे दिया। इस इज्तेमाई शादी में मुस्लिम समाज की सभी बिरादरी के जोड़े शामिल हुए। दूल्हा-दुल्हन का जोड़ा सलामत रहे और ख़ुश रहे ऐसी दुआएं मांगी गई।