इंदौर। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने आज इंदौर में 500 सीटर पोस्ट मैट्रिक गर्ल्स हॉस्टल का शुभारंभ किया।इस मौके पर केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत के अलावा मध्य प्रदेश सरकार के कई कैबिनेट मंत्री मौजूद रहे। बता दें कि इंदौर के असरावद खुर्द में पिछड़ा वर्ग की बालिकाओं के लिए देश का सबसे बड़ा छात्रावास बनाया गया है। यह छात्रावास 500 सीटर है जिसमें छात्राओं के लिए सारी सुविधाएं होंगी। करीब 15 करोड़ की लागत से बने इस छात्रावास में सभी सुविधाएं मौजूद हैं। केंद्र सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने इसके लिए राशि मंजूर की थी। बेशक, जिले और आसपास के क्षेत्र की पिछड़ा वर्ग की छात्राओं के लिए यह छात्रावास बड़ी सौगात है, लेकिन इसमें सुरक्षा के लिए बाउंड्रीवॉल नहीं है।

बताया जाता है कि शासन की ओर से केवल छात्रावास निर्माण की राशि मंजूर की गई थी, इसमें बाउंड्रीवॉल का प्रावधान नहीं था। अधिकारियों को चिंता है कि बाउंड्रीवॉल के बिना छात्रावास की सुरक्षा मुश्किल होगी। ऐसे में पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अधिकारियों की ओर से राज्य शासन को बाउंड्रीवॉल के लिए 2 करोड़ रुपए का प्रस्ताव भेजा है, पर अब तक यह मंजूर नहीं हो पाया है। बहरहाल, इस कन्या छात्रावास भवन में ए, बी और सी तीन ब्लॉक हैं। इसमें 250 कमरे, 11 डायनिंग हॉल, 11 किचन कक्ष और 11 स्टोर रूम हैं।

अधिकारियों का कहना है कि छात्रावास में एडमिशन के लिए 1 जुलाई से प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी और कोशिश रहेगी कि इसे अगस्त के प्रथम सप्ताह में शुरू कर दिया जाए। प्रवेश के लिए आवेदन आना शुरू हो गए हैं।

पुलिस हाउसिंग क्वार्टर्स की लोकार्पण भी

इसके अलावा मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इंदौर में ही नवनिर्मित पुलिस हाउसिंग आवासीय क्वार्ट्स का लोकार्पण किया। इस कार्यक्रम में प्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन के अलावा डीजीपी भी मौजूद थे। शाम 5 बजे रवींद्र नाट्यगृह में एक कार्यक्रम में शामिल होंगे और शाम 6 बजे इंदौर विमानतल से दिल्ली के लिए रवाना होंगे।