जगदलपुर । शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बिलोरी में गुरुवार को लगभग 200 छात्र-छात्राओं ने स्कूल प्रबंधन के साथ मिलकर पौधारोपण किया।पौधारोपण हेतु इंद्रावती बचाओ जन जागरण अभियान के सदस्य भी पहुंचे थे।लगातार विभिन्न निजी व शासकीय संस्थानों में इंद्रावती बचाओ अभियान के सदस्य स्कूल प्रबंधन के साथ मिलकर वृहद पौधरोपण का कार्य कर रहा है।इसी तारतम्य में गुरुवार 4 जुलाई को नगर से 8 किलोमीटर दूर बिलोरी ग्राम स्थित शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में फल व छायादार पौधे रोपे गए।बिलोरी ग्राम स्थित शासकीय विद्यालय में चाहरदिवारी के चलते सुरक्षा के प्रबंध इंतजाम मौजूद हैं,लिहाजा इंद्रावती बचाओ जन जागरण अभियान के सदस्य और शिक्षक शिक्षिकाएं पौधे को सुरक्षित रखने हेतु निश्चिंत है।गुरुवार को आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम के अवसर पर स्कूल के सभाकक्ष में स्वागत समारोह का आयोजन भी किया था।स्कूल की छात्राओं ने अभियान से जुड़े लोगों का स्वागत सत्कार किया।इस अवसर पर बस्तर हाई स्कूल की प्राचार्य सुषमा झा ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि पौधे लगाना एक अच्छा कार्य है।आज हम जिंदा हैं शायद कल ना रहे लेकिन लगाये गये पौधे हमेशा उसी स्थान पर रहेगा जहां उसे लगाया जाता है।उन्होंने कहा कि बच्चे लगाए गए पौधों का ध्यान रखें और उन्हें अच्छे से सहज कर बड़ा करें,यह भविष्य में उनको याद दिलाता रहेगा कि पौधे उन्होंने लगाया है।अभियान से जुड़ी वरिष्ठ सदस्य उर्मिला आचार्य ने कहा की चमन को अगर हमेशा फलता फूलता रखना है तो आज पौधे लगाना अति आवश्यक है।यही पौधे कल बड़े होकर वृक्ष बन जाएंगे,फल के साथ-साथ पेड़ लोगों को छाया देने का भी काम करेगा,पर्यावरण को संरक्षित रखने के लिए पौधे अहम भूमिका निभाते हैं।उन्होंने कहा कि यही पौधा उन्हें यह भी याद दिलाता रहेगा कि वे किसी जमाने में इस स्कूल में पढ़े थे।अभियान से जुड़े सदस्य संपत झा ने जल संरक्षण के लिए उपयुक्त कदम उठाए जाने की बात कही।उन्होंने कहा कि प्रत्येक गांव के हर घर में छोटे-छोटे डबरी बनाए जाने चाहिए ताकि वर्षा ऋतु का जल उसमें जमा हो तथा जमीन में हार्वेस्टिंग के लिए पानी चला जाए इससे ना केवल जलस्तर बना रहेगा बल्कि गर्मियों के दिनों में पानी की समस्या नहीं होगी,श्री झा ने बच्चों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि वे पौधे लगाने के साथ-साथ जल संचय के लिए भी प्रयास करें,यह उनके गांव के लिए,इलाके के लिए और पूरे जिले के लिए लाभकारी सिद्ध होगा,अभियान के मनीष मूलचंदानी ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि बच्चे पांच पांच के समूह में पौधे लगाएं और उन पौधों को सुरक्षित रख बड़ा करने की जिम्मेदारी भी लें। ताकि लगाया गया पौधा बड़े हों उससे लोगों को लाभ प्राप्त हों।शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्य आर.डी तिवारी ने अभियान से जुड़े सदस्यों का आभार माना,कार्यक्रम,उपरांत स्कूल परिसर में विभिन्न किस्म के 51 पौधे रोपित किए गए और इन सभी पौधों की देखरेख की जिम्मेदारी स्कूल की छात्र छात्राओं ने ली।साथ ही यह शपथ भी लिया की पर्यावरण संरक्षण को लेकर वे गंभीर होंगें साथ ही बच्चों ने स्कूल के साथ साथ गांव के खाली पड़ी जमीन में भी छाया व फलदार पौधे लगाने की बात कही।इस अवसर पर शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बिलोरी के प्राचार्य आर.डी तिवारी, अजय श्रीवास्तव,महेश चंद्र मरकाम,राजेश जान वरदान,भारती ठाकुर,राजेश जेना,ख्याति देवांगन,अनीता ठाकुर,विजेता नाग,एन पद्मजा,माधुरी अटभैया,गीता आचार्य,अनिल सोनी श्यामसुंद,निशा साव,इंद्रावती बचाओ अभियान की तरफ से सुषमा झा,उर्मिला आचार्य,गाजिया अंजुम,अंजनी तिवारी,जयश्री राव,गायत्री आचार्य,अजय पाल सिंह,राजेश भोजवानी,संपत झा,दिनेश सर्राफ,कलवेंद्र सिंग राजू,धर्मेन्द्र महापात्र,मनीष मूलचंदानी,भोलेन्द्र पांडे व अन्य सदस्यगण मौजूद थे।