नई दिल्ली: युवा खिलाड़ी ऋषभ पंत ने हार के बाद पहली बार चुप्पी तोड़ी है. दरअसल, ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर खेले गए आईसीसी विश्व कप-2019 के पहले सेमीफाइनल मैच में न्यूजीलैंड ने जब भारत के चार विकेट 24 रनों पर गिरा दिए थे तब हार्दिक पांड्या के साथ पंत ने 47 रन जोड़े लेकिन गलत शॉट खेल आउट हो गए. पंत के आउट होने पर कोहली काफी झल्लाए थे. अब ऋषभ पंत ने एक ट्वीट के जरिये अपने जज्बात शेयर किए हैं. 

पंत ने अपने एक ट्वीट में लिखा, "मेरा देश, मेरी टीम...मेरा सम्मान. पूरे देश ने जो विश्वास और प्यार एक टीम के रूप में हम पर प्रदर्शित किया, उसके लिए बहुत शुक्रगुजार हूं. हम मजबूती से वापसी करेंगे." 
पंत के इस ट्वीट पर यूजर ने मिलीजुली प्रतिक्रिया दी. कुछ यूजर ने उन्हें सलाह दी तो कुछ ने उन पर गुस्सा भी निकाला. एक यूजर गीतिका स्वामी ने लिखा, "टीम इंडिया शानदार खेल दिखाया, हमें आप सभी पर गर्व है. अपना मनोबल ऊंचा रखें और जश्न मनाते रहें क्योंकि संघर्ष हारने पर समाप्त नहीं होता, यह अगली जीत तक जारी रहता है."
एक यूजर सिद्धार्थ पटेल ने ऋषभ पंत के गलत शॉट को टीम इंडिया की हार के जिम्मेदार ठहराया.
एक अन्य यूजर नरेश ने भी गुस्सा जताया.
हालांकि मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान विराट कोहली ने हालांकि पंत का बचाव करते हुए कहा है कि वह समय के साथ सीख जाएंगे. कोहली ने कहा था, "वह स्वाभाविक खिलाड़ी हैं और उन्होंने खराब स्थिति से बाहर आने के लिए अच्छा काम किया है और पांड्या के साथ साझेदारी की. मुझे लगता है कि तीन/चार विकेट गंवाने के बाद उन्होंने जिस तरह से खेला वो अच्छा था, वह अभी युवा हैं। मैं भी जब युवा था तब मैंने भी काफी गलतियां कीं, लेकिन सीखा, वह भी सीखेंगे. वह जब पलट कर देखेंगे तो कहेंगें कि हां वह उस स्थिति में कुछ अलग कर सकते थे."

कोहली से जब पूछा गया कि वह ड्रेसिंग रूम में शास्त्री के साथ क्या चर्चा कर रहे थे? तो इस पर भारतीय कप्तान ने कहा, "मैंने पूछ था कि इस स्थिति से आगे जाने की क्या रणनीति है और मैदान के अंदर क्या संदेश भेजना है ताकि हम देख सकें कि मैच कहां जा रहा है."