इन्दौर । अग्रवाल समाज की शीर्ष संस्था अग्रवाल समाज केंद्रीय समिति की वार्षिक साधारण सभा में वर्तमान कार्यकारिणी ने जहां निर्विरोध निर्वाचित हुए नए पदाधिकारियों का स्वागत किया, वहीं अगले दो वर्षों के लिए अपनी कार्ययोजना भी प्रस्तुत की। आगामी अग्रसेन जयंती महोत्सव के कार्यक्रमों पर भी चर्चा हुई। बाईस वर्षों के इतिहास में पहली बार निर्विरोध हुए चुनावों के जश्न स्वरूप दादीजी के मंगल पाठ का आयोजन भी सौल्लास संपन्न हुआ।
शुभकारज गार्डन पर वर्तमान अध्यक्ष अरविंद बागड़ी की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में मुख्य चुनाव अधिकारी राम ऐरन तथा उनके सहयोगी सीए एस.एन. गोयल एवं महेंद्र गर्ग ने जहां नए पदाधिकारियों के निर्विरोध निर्वाचित होने की औपचारिक घोषणा की, वहीं वरिष्ठ समाजसेवी विनोद अग्रवाल, प्रेमचंद गोयल, दिनेश मित्तल, टीकमचंद गर्ग, विष्णु बिंदल, पूर्व अध्यक्ष किशोर गोयल, संजय बांकड़ा, कुलभूषण मित्तल, बालकृष्ण छाबछरिया, महेश मित्तल, आदि ने समाजबंधुओं को निर्विरोध निर्वाचन के लिए बधाई देते हुए उनका अभिनंदन किया। नवनिर्वाचित अध्यक्ष गोविंद सिंघल, महामंत्री पवन सिंघल एवं नई कार्यकारिणी के अन्य पदाधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे जिनका निवृत्तमान अध्यक्ष अरविंद बागड़ी, महामंत्री राजेश बंसल एवं अन्य पदाधिकारियों ने आत्मीय स्वागत किया। इस मौके पर मौजूदा कोषाध्यक्ष राजेंद्र समाधान ने अपने कार्यकाल का लेखा-जोखा एवं हिसाब भी प्रस्तुत किया जो सर्वसम्मति से मान्य किया गया। इसी तरह अध्यक्ष अरविंद बागड़ी ने भी अपने कार्यकाल में किए गए उल्लेखनीय कार्यों का जिक्र करते हुए आश्वस्त किया कि अब नए और पुराने पदाधिकारी मिलकर वरिष्ठजनों के मार्गदर्शन में समाज को आगे बढ़ाने के लिए हमेशा तत्पर रहेंगे।
वार्षिक साधारण सभा का समापन समाज की मातृशक्ति द्वारा दादीजी के मंगल पाठ के दिव्य आयोजन के साथ हुआ। समाज की दो हजार से अधिक मातृ शक्तियों ने उत्साह के साथ इस मंगल पाठ में भाग लिया और आगामी स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में एक-दूसरे को अग्रिम बधाई एवं शुभकामनाएं भी समर्पित की। मंगल पाठ प्रभारी पुष्पा गुप्ता एवं अन्य महिलाओं तथा पदाधिकारियों ने मंगल पाठ गायक श्रीमती ममता दीदी का स्वागत किया। आरती के साथ समापन हुआ। संचालन महामंत्री राजेश बंसल ने किया और अंत में आभार माना अध्यक्ष अरविंद बागड़ी ने। उन्होंने बताया कि अब 21 नए पदाधिकारी एवं 5 पूर्व अध्यक्ष मिलकर 13 अगस्त को सलाहकार मंडल के 10 सदस्यों का चयन करेंगे, उसके बाद निर्वाचन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी तथा नई कार्यकारिणी अस्तित्व में आ जाएगी।