नई दिल्ली । जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया जाना और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने से क्षेत्र का विकास तेजी से होगा। भारत की आजादी की 72वीं वर्षगांठ की पूर्व संध्या पर देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए राष्ट्र के नाम संबोधन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने से वहां का विकास गति पकड़ेगा। उन्होंने भरोसा जताया कि जम्मू कश्मीर से हाल ही में हटाया गया अनुच्छेद 370 वहां के लोगों के लिए फायदेमंद साबित होगा। साथ ही उन्होंने युवाओं, महिलाओं, गरीबी और समानता पर जोर दिया। 
राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि 15 अगस्त से हमारा रिश्ता अटूट है। हमारा तिरंगा देश की स्वतंत्रता, स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान की गाथा बयां करता है। मेरी कामना है कि हमारी समावेशी संस्कृति, हमारे आदर्श, हमारी करुणा, हमारी जिज्ञासा और हमारा भाई-चारा सदैव बना रहे और हम सभी, इन जीवन-मूल्यों की छाया में आगे बढ़ते रहें। 


सरकार से जनता की अपेक्षाएं
राष्ट्रपति ने कहा कि संसद के इस सत्र के दौरान दोनों ही सदनों की बैठकें बहुत सफल रही है। लोगों के जनादेश में उनकी आकांक्षाएं साफ दिखाई देती हैं। इन आकांक्षाओं को पूरा करने में सरकार अपनी भूमिका निभाती है। मेरा मानना है कि 130 करोड़ भारतवासी अपने कौशल, प्रतिभा, उद्यम और इनोवेशन के जरिए विकास के कई अवसर पैदा कर सकते हैं। 


युवाओं का दुनियां में बोलबाला
भारत युवाओं का देश है। हमारे युवाओं की ऊर्जा खेल से लेकर विज्ञान तक और ज्ञान की खोज से लेकर सॉफ्ट स्किल तक प्रतिभा बिखेर रही है। समाज और राष्ट्र के विकास के लिए बनाए गए इंफ्रास्ट्रक्चर का सदुपयोग करना और उसकी रक्षा करना, हम सभी का कर्तव्य है। 


महिला सशक्तिकरण पर जोर
देश में महिलाओं को मुख्य धारा में लाने के लिए सरकार प्रयास कर रही है। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि देश के विकास में महिलाओं की भूमिका विशेष रही है। हर घर में शौचालय और पानी उपलब्ध कराने का पूरा लाभ तभी मिलेगा जब इन सुविधाओं से हमारी बहन-बेटियों का सशक्तिकरण हो और उनकी गरिमा बढ़े। 


कंधे से कंधा मिलाकर करें काम
राष्ट्रपति ने कहा कि यह हम सभी की जिम्मेदारी है कि अपने गौरवशाली देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए कंधे से कंधा मिलाकर काम करें। हमारा लक्ष्य विकास की गति तेज करना, शासन व्यवस्था कुशल और पारदर्शी हो ताकि देश का हर व्यक्ति समृद्ध बनें। जय हिंद।