रतलाम। माता-पिता जब आपसे कहते हैं कि आपको जो मिल रहा है वह हमें नहीं मिला, तो यह गुजरे हुए कल की सच्चाई है। आज की शिक्षा पर माता-पिता ने अपना सबकुछ दाव पर लगा दिया है वहीं कारण है कि यह देश आज तेजी से आगे बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री राकेश सिंह ने रविवार को रतलाम के विधायक सभागृह में आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए कही।
श्री राकेश सिंह ने कहा कि आज हम जहां तक पहुंचे हैं वहां तक पहुंचाने में सबसे अधिक योगदान यदि किसी का है तो हमारे माता-पिता का है। जिन्होंने स्वयं के बारे में नहीं सोचा। ये बच्चे आगे बढ़ें इसके लिए आधे पेट खाकर भी, आधा तन ढककर भी बच्चों के लिए सोचा और इन ऊंचाईयों तक पहुंचाने का मार्ग प्रशस्त किया। उन्होंने कहा कि आज आप लोगों को सुविधाएं उपलब्ध हैं उनके बारे में पहले की पीढ़ी के बच्चों ने कभी सोचा भी नहीं था।
उन्होंने कहा कि आज इससे बड़ी बात क्या होगी कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी देश के बच्चों के लिए किताब लिखें, उनसे सीधा संवाद करें, आगे बढ़ने के लिए क्या-क्या आवश्यक है वह उनसे कहें। यह देश में पहली बार हुआ है। क्योंकि आज देश ने इस बात को माना है क्योंकि जहां आज हम खड़े हैं वहां तक पहुंचने में पीढ़ियों की सामथ्र्य लगी है। तपस्या और त्याग लगा है। हमें इसे बचाकर रखना है और देश को आगे लेकर जाना है। आप सामथ्र्यवान बनें, इसलिए आपका परिवार, समाज और देश अपना सर्वस्व न्यौछावर करने के लिए तैयार है। हम जो भी बनेंगे अपने देश के लिए बनेंगे, भारत माता के लिए बनेंगे। इस बात को ध्यान में रखकर यदि आप चलेंगे तो सच मानिए यह समाज और देश आपके पीछे चलेगा। आने वाले समय में यदि हम अपने ज्ञान को देश के लिए, समाज के लिए बाटने का काम नहीं करेंगे तो उस ज्ञान का सदुपयोग नहीं हो पायेगा। आज देश को उसकी जरूरत भी है। मुझे गर्व है कि आने वाले दिनों में देश का भार आपके कंधों पर होगा। आज हम देखते हैं कि चन्द्रयान के द्वारा दुनिया में एक कीर्तिमान स्थापित हुआ है। भारत के वैज्ञानिकों की तकनीक के द्वारा हम चांद पर पहुंचे हैं। दुनिया के तीन देशों के अलावा वहां तक कोई नहीं पहुंचा इसलिए नमन है हमारे वैज्ञानिकों को मुझे भरोसा है।
श्री राकेश सिंह ने कहा कि यहां इस मंच पर बैठे यह बच्चे रतलाम और मालवा के लिए प्रेरणा है। इस तरह के कार्यक्रमों का जब आयोजन होता है। उसका एकमात्र उद्देश्य है कि विद्यार्थियों का हौसला बढे़ और इनके साथ हर समाज के, हर वर्ग के सभी बच्चों को भी यह प्रेरणा मिले कि हमें भी इन ऊंचाईयों तक पहुंचना है और अपने माता-पिता का नाम रोशन करना है। हमें बहुत खुशी है कि यह जो मेधावी बच्चे सम्मानित हुए हैं उन पर गर्व है। उन्होंने कहा कि एक अच्छा जन प्रतिनिधि वह नहीं है जो चुनाव जीतता है एक अच्छा प्रतिनिधि वह है जो जनता के दिलों को जीतता है, उनके मनोभावों को समझता है और उनके अनुरूप कार्य करता है। हमें गर्व है कि भारतीय जनता पार्टी के पास ऐसे जनप्रतिनिधि हैं जो केवल दूसरे जनप्रतिनिधियों के लिए नहीं बल्कि दूसरें दलों और समाज के लिए भी प्रेरणा हैं। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि दुनिया में कोई सबसे महत्वपूर्ण है तो वह शिक्षक है, जो इन सबको वहां तक पहुंचने की ताकत और प्रेरणा देता है। इसलिए इस अवसर पर हम समाज के उन सभी शिक्षकों को नमन करते हैं।
समारोह में फाउण्डेशन अध्यक्ष विधायक चेतन्य काश्यप ने कहा कि प्रतिभा सम्मान का यह क्रम समाज के समग्र विकास की अवधारणा से प्रेरित है। हमारी अगली पीढ़ी की भूमिका को लेकर फाउण्डेशन लगातार कार्य कर रहा है। फाउण्डेशन द्वारा 94 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले 88 विद्यार्थियांे के साथ मेडिकल काॅलेज में दाखिला लेने वाले 4 विद्यार्थियों को सम्मानित कर शील्ड प्रदान की।
इस अवसर पर सांसद श्री गुमानसिंह डामोर, विधायक श्री चेतन कुमार कश्यप, विधायक श्री दिलीप मकवाना, जिला अध्यक्ष श्री राजेन्द्र लूनेरा, महापौर डाॅ. सुनीता यार्दे, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री परमेश मईड़ा, पूर्व विधायक श्रीमती संगीता चारेल, निगम अध्यक्ष श्री अशोक पोरवाल, पूर्व महापौर श्री शैलेन्द्र डागा उपस्थित