भोपाल। कांग्रेस की कमलनाथ सरकार की अराजकता वादाखिलाफी और धोखाधड़ी के कारण पूरे प्रदेश में जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। किसान कर्जमाफी के लिए भटक रहे है, युवा बेरोजगारी भत्ते की राह देख रहा है, भारी वर्षा से नष्ट हुई फसलों की कोई सुध लेने वाला नहीं है, बिजली कटौती भारी पैमाने पर की जा रही है, कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी गयी है, प्रदेश लूट, डकैती, हत्या और बलात्कार जैसी विभीषिका में उलझ गया है। लेकिन सरकार सिर्फ भ्रष्टाचार और तबादलों में व्यस्त है। इन सभी मुद्दों को लेकर आज भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेशव्यापी घंटानाद आंदोलन किया। प्रदेश के सभी जिलों में एक साथ हजारों हजार कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर कूच करते हुए घंटे, घड़ियाल, शंख, मंजीरा बजाते हुए कुंभकर्णी नींद में सोई सरकार को जगाने के लिए जबरदस्त प्रदर्शन किया। भोपाल में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने स्वयं कार्यक्रम का नेतत्व किया। विदिशा में पूर्व मुख्यमंत्री  शिवराजसिंह चौहान, जबलपुर में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, सागर में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, इंदौर में श्रीमती सुमित्रा ताई महाजन, नंदकुमारसिंह चौहान, उज्जैन में विक्रम वर्मा, ग्वालियर में  भूपेन्द्र सिंह सहित सभी जिलों में वरिष्ठ नेताओं ने आंदोलन की कमान संभाली।
भोपाल में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के नेतृत्व में महापौर आलोक शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा, विधायक विश्वास सारंग, जिलाध्यक्ष विकास विरानी सहित हजारों कार्यकर्ताओं ने भोपाल कलेक्ट्रेट की ओर कूच किया। सरकार ने भारी पुलिस बल के दम पर आंदोलन को कुचलने का प्रयास किया, लेकिन घंटा, घडियाल की जोरदार गूंज करते हुए कार्यकर्ताओं का उत्साह आसमान पर था। प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने आगे बढ़कर स्वयं पुलिस का बैरिकेट तोड़ा तो उनके साथ-साथ भारी मात्रा में कार्यकर्ताओं ने भी बैरिकेट्स पर चढकर पुलिस के इंतजामों को धत्ता बताते हुए आगे कूच किया। बाद में पुलिस ने आंदोलनकारियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस सभी कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की व्यवस्था नहीं कर सकी, क्योंकि वह सिर्फ दो बसें लेकर आंदोलन स्तर पर पहुंची थी। इससे साफ होता है कि सरकार को भी ऐसे प्रचंड आंदोलन का अनुमान नहीं था।
गिरफ्तारी देते हुए प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि प्रदेश की कमलनाथ सरकार लोकतंत्र की हत्या करने पर आमादा है। यह सरकार विरोध में उठने वाली हर आवाज को दबाना चाहती है। लेकिन हम ना दबाव में आएंगे और ना रुकेंगे। विरोध का हमारा सिलसिला जारी रहेगा। 
भोपाल में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के नेतृत्व में कलेक्टर कार्यालय के सामने घंटानाद कर लगभग सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी। इस अवसर पर पार्टी के महापौर आलोक शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा, विधायक विश्वास सारंग, प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पाराशर, प्रदेश प्रवक्ता राहुल कोठारी, जिलाध्यक्ष विकास विरानी, सुरेन्द्रनाथ सिंह, राम बंसल, सुमित पचैरी, अंशुल तिवारी सहित पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।
विदिशा में पूर्व मुख्यमंत्री एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में भारी संख्या में कार्यकर्ताओं ने घंटानाद किया। भीषण बारिश के बावजूद हजारों कार्यकर्ता विदिशा की सड़कों पर उमडे। उन्होंने कहा कि कमलनाथ की सरकार गले तक भ्रष्टाचार में डूबी हुई है। ट्रांसफर और अवैध खनन में व्यस्त सरकार को जनहित की कोई चिंता नहीं है। लेकिन एक जिम्मेदारी विपक्ष होने के नाते भारतीय जनता पार्टी इसे चुपचाप नहीं देख सकती। हम प्रदेश में लूट डकैती, अराजकता और भ्रष्टाचार को बंद कराकर ही दम लेंगे। शिवराजसिंह चैहान के साथ रमाकांत भार्गव, जिलाध्यक्ष राकेश जादौन सहित बडी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।