नई दिल्ली दशकों पुराने अयोध्या मामले पर आज सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है। इस फैसले के तहत विवादित भूमि रामलला के मंदिर के लिए हिंदू समुदाय को सौंप दी गई है जबकि मुस्लिम समुदाय को अलग से 5 एकड़ जमीन दी जाएगी जिसपर मस्जिद का निर्माण किया जा सकेगा। बता दें कि इस फैसले के बाद जहां एक तरफ कई राजनीतक प्रतिक्रियाएं तेज हुई हैं वहीं अब पीएम नरेंद्र मोदी भी इसको लेकर देश को संबोधित कर रहे हैं।
 गौरतलब है कि इस फैसले के पहले पीएम मोदी कई ट्वीट के जरिए लोगों से शांति की अपील की थी और कहा था कि फैसले को हार या जीत के रूप में न देखा जाए। वहीं फैसला आने के बाद भी पीएम ने कुछ ट्वीट किए थे।
-आज सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐसे महत्वपूर्ण मामले पर फैसला सुनाया है, जिसके पीछे सैकड़ों वर्षों का दीर्घकालीन इतिहास है। पूरे देश की इच्छा थी कि इस मामले की अदालत में रोज सुनवाई हो, जो हुई और आज निर्णय आ चुका है। दशकों तक चली न्याय प्रकिया का अब समापन हो गया है। 

-प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की तरफ से ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शाम 6 बजे देश को संबोधित करेंगे।