सपाक्स पार्टी लोगों के साथ जाति धर्म और वर्ग का भेदभाव  किए बिना आर्थिक आधार पर गरीबों के हक के लिए संघर्ष करेगी: विनोद अग्रवाल 
 
छतरपुर। विधानसभा क्षेत्र सपाक्स पार्टी से चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी विनोद अग्रवाल ने आज अंतिम दिन सरानी दरवाजा, चौबे कॉलोनी, नरसिंहगढ़ पुरवा सहित अन्य क्षेत्रों में जनसंपर्क करके लोगों से जहां झूला के सामने का बटन दबाने की अपील की। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि सपाक्स पार्टी प्रदेश के सभी लोगों के साथ जाति, धर्म और वर्ग का भेदभाव किए बिना आर्थिक आधार सभी वर्ग के गरीबों के हक के लिए संघर्ष करेगी। विनोद अग्रवाल ने कहा कि एट्रो सिटी एक्ट में सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय को लागू करना। पदोन्नति में आरक्षण समाप्त करना, निजी क्षेत्र में आरक्षण का विरोध करना एवं जाति धर्म से ऊपर उठकर आरक्षण एवं अन्य योजनाओं को आर्थिक आधार पर लागू कराना ही सपाक्स पार्टी का पहला संकल्प होगा। इसके अलावा पार्टी के अन्य मुद्दे एवं संकल्प भी शामिल किए गए हैं। सपाक्स प्रत्याशी विनोद अग्रवाल ने कहा कि पदोन्नत में आरक्षण के विरोध से शुरू हुए आंदोलन ने जनआंदोलन का रूप तब लिया जब केंद्र सरकार ने एट्रो सिटी एक्ट में सर्वाेच्च न्यायालय  के निर्णय के विरूद्ध जाकर बिना जांच गिरफ्तारी सहित अन्य कई कड़े प्रावधान कर दिए। यहां तक कि अग्रिम जमानत के प्रावधान पर भी रोक लगा दी गई। किसी भी राजनैतिक दल ने इस काले कानून का संसद में विरोध नहीं किया। कुछ नेताओं द्वारा हमे माई के लाल कहकर चुनौती भी दी गई। विनोद अग्रवाल ने कहा कि इस प्रकार के बयानों ने हमे आहत तो किया ही है साथ ही एहसास भी कराया कि हम सभी राजनैतिक दलों के लिए राजनैतिक अछूत भी हैं। यह उन्होंने कहा कि संसद में एट्रो सिटी एमेंडमेंट एक्ट 2018 प्रस्तुत हुआ तब किसी भी दल के सांसद ने एट्रो सिटी एमेंड एक्ट 2016 के विरूद्ध मुंह तक नहीं खोला। विनोद अग्रवाल ने कहा सपाक्स पार्टी के गठन के दौरान मुझ इस पार्टी के नेतृत्व की जिम्मेदारी सौंपी गई। अब आप सबसे अपील है कि आपकी अपनी सपाक्स पार्टी के प्रत्याशी को चुनाव में विकल्प के रूप में चुनकर विधानसभा में भेजें। भ्रमण के दौरान सपाक्स प्रत्याशी के साथ  सपाक्स के जिला उपाध्यक्ष मनेन्दु पहारिया, राजीव खरे, इंत्याज खां, भूपेंद्र सिंह, कमर खां, मोहन, राजकुमार सेन सहित अन्य लोग मौजूद रहे।