सेवक बनकर जनता की सेवा की आगे भी करती रहूंगी: अर्चना गुड्डू सिंह

 
छतरपुर। राजनीति को मैने सेवा का माध्यम बनाया है, अब तक पिछले 8 सालों में मैंने अपने क्षेत्र और जनता की सेवा करने में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं छोड़ी है। मैंने अन्य नेताओं से अलग हटकर अपने क्षेत्र के लोगों के साथ पारिवारिक रिश्ते जोड़े हैं मैंने सेवक बनकर जनता की सेवा की है और आगे भी करती रहूंगी यह वचन नहीं बल्कि सौगंध है। उक्त विचार छतरपुर विधानसभा क्षेत्र की विधायक पद की उम्मीदवार अर्चना गुड्डू सिंह ने प्रेस को जारी एक विज्ञप्ति में व्यक्त किये। चुनाव प्रचार थमने के बाद एक-एक घर में जाकर सम्पर्क कर रही अर्चना सिंह पिछले दो दिनों से लगातार मतदाताओं के सम्पर्क में हैं और उन्हें छतरपुर विधानसभा क्षेत्र के सम्पूर्ण और समग्र विकास का आश्वासन देने में जुटी हुई हैं।
अर्चना गुड्डू सिंह ने कहा कि क्षेत्र की जनता के दुख दर्द मंे केवल वे नहीं बल्कि उनके पति पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह गुड्डू भैया, देवर उपेन्द्र प्रताप सिंह लकी भैया हमेषा कंधे से कंधा लगाकर खड़े हुए हैं। किसी भी मतदाता को आज तक उनके घर परिवार से निराशा नहीं मिली। उन्होंने कहा कि आगे भी कभी ऐसा मौका नहीं आएगा जब लोगों को उनसे निराशा मिले। उन्होंने कहा कि नगर पालिका का पहल चुनाव केवल 700 वोटों से जीती थीं। फिर शुरू हुआ सेवा का सिलसिला तो दूसरा चुनाव मतदाताओं ने 17 हजार वोटों से जिताकर मुझे मेरी सेवा का प्रतिफल दिया। अब मैं विधानसभा का चुनाव लड़ रही हूं मुझे उम्मीद है कि मेरे क्षेत्र के मतदाता मुझ पर पूरा भरोसा कर विशाल मतों से जीत दिलाएंगे। उन्होंने कहा कि नगर पालिका की कई योजनाएं अभी चल रही हैं अधूरी हैं उन्हें भी पूरी करना है और छतरपुर विधानसभा क्षेत्र के लिए विकास का जो खाका तैयार किया है जो सपने देखे हैं उन्हें भी पूरा करना है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग छल, बल और जातिवाद का जहर घोलकर मतदाताओं को बरगलाने का काम कर रहे हैं लेकिन छतरपुर की जनता इतनी भोली नहीं है कि वह कांग्रेस के छलावे में आ जाये। उन्होंने भावनात्मक लहजे में कहा कि मैं तो 8 साल से अपने मतदाताओं को रक्षा का सूत्र भेजकर उनसे परिवार का भाव बनाए हुए हूं अब मतदाताओं को कृष्ण बनकर अपनी बहन का सम्मान बचाने की बारी है। उन्होंने कहा कि मेरी सेवा में अगर कोई कमी रह गई होगी तो मेरे मतदाता भाई मुझे अपनी बहिन, बेटी और बहू समझकर क्षमा कर देंगे ऐसा मुझे विश्वास है।