परिषद को बताये बगैर पार्क तोड़ने वालों पर होगी कार्यवाही- अर्चना गुड्डू सिंह


गुस्साये पार्षदों ने अध्यक्ष के साथ दिया धरना, पीआईसी करेगी पूरे मामले की जांच

छतरपुर। बस स्टेण्ड के नजदीक तिराहे पर बने प्राचाीन पार्क को रातों-रात तोड़ डालने का मामला सामने आने के बाद नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना गुड्डू सिंह और पार्षद आग बबूला हो गये उन्होने खण्डहर कर दिये गये पार्क में पहुंचकर पार्क की मिट्टी को हाथों में लेकर सौगंध खाई और कहा कि जिसने भी पार्क तोड़ने का यह पाप किया है उन्हें बख्शा नहीं जायेगा तथा उनके बिरूद्ध कठोर से कठोर कार्यवाही की जायेगी। इस मौके पर नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना गुड्डू सिंह ने नगर पालिका की मंत्री परिषद को पूरे मामले की जांच करने के निर्देष दिये। 

 


पार्षदों के साथ मौके पर पहुंची नगरपालिका अध्यक्ष अर्चना गुड्डू सिंह ने कहा कि नगर पालिका के अधिकारियों ने पार्क तोड़े जाने की अनुमति लेना तो दूर जानकारी भी अध्यक्ष और परिषद को देना उचित नहीं समझी। उन्होंने कहा कि जब लोगों की षिकायत उनके पास आई तब उन्हें पार्क तोड़ने की जानकारी मिली । उन्होंने कठोर लहजे में कहा कि यह न सिर्फ कानून का उल्लंघन है बल्कि जनता द्वारा चुनी गई परिषद का अपमान भी है। यह पाप जिन अधिकारियों ने भी किया है उन्हें किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जायेगा और उनके बिरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि नगर पालिका कोई भी निर्माण कार्य परिषद की मंजूरी के बगैर नहीं कर सकती है। नगर पालिका एक्ट के मुताबिक जो भी निर्माण कार्य परिषद की स्वीकृति से होता है उसे बगैर परिषद की स्वीकृति के नहीं तोड़ा जा सकता, क्योकि इसमें शासन की निधि खर्च होती है यह मामला आर्थिक अपराध की श्रेणी में भी आता है। इस पार्क के टूटने से सिख समाज की भावना आहत हुई हैं, क्योंकि इस पार्क में भाजपा के बरिष्ठ नेता एवं पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष सरदार प्यारा सिंह की प्रतिमा स्थापित की जाना थी।

 

 

 

 मौके पर मौजूद मीडिया कार्मियों के सवाल के जबाव में उन्होंने कहा कि लोग बता रहे हैं कि नगर पालिका के अधिकारियों ने किसी भू माफिया के इषारे पर इस पार्क को तहस-नहस किया है। हमने नगर पालिका की पीआईसी को इस पूरे मामले की जांच करने के निर्देष दिये हैं। पीआईसी में शामिल हमारे सहयोगी पार्षद इस पूरे मामले की गंभीरता से जांच करेंगे। उन्होंने कहा कि यहां सरदार प्यारा सिंह की प्रतिमा स्थापित की जायेगी। इसमें किसी भी प्रकार का कोई समझौता नहीं किया जायेगा।

 

 

 

 इस मौके पर नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना गुड्डू सिंह के अलावा उपाध्यक्ष कमला खरे, बिधि सलाहकार अभिषेक खरे, पार्षद डालडा मातेले, ओम प्रकाष ताम्रकार, सुरेन्द्र साहू, लाले षिवहरे, अभिषेक पाठक, हीरा लाल कोरी, राघवेन्द्रसिंह बुन्देला, द्रोपदी कुषवाहा, पुष्पा चौरसिया, रामकली बरार, राजकुमारी प्रदीप साहू, स्वाती सोनू गुप्ता, षिखा महेन्द्र शर्मा, अन्नू राजपूत, काजू द्विवेदी, पूर्व पार्षद देवेन्द्र द्विवेदी, महिला मोर्चा की सीता सिंह, भारत स्वाभिमान न्यास के जिला संयोजक उपेन्द्र प्रताप सिंह सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।